इन्दौर कैंसर फाउंडेशन ने कैंसर पीड़ित मरीजों के लिया जिला अस्पताल में लगाया शिविर

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं


कैंसर मरीजों के लिए आयोजित हो रहा निशुल्क कैंप
जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने की कैंसर शिविर में शामिल होने की अपील
26 फ़रवरी को मेडीकल कॉलेज में आयोजित हो रहा शिविर
अनूपपुर। देश और प्रदेश में लगातार कैंसर के मरीजों में हो रहा इजाफे को लेकर सरकार काफी चिंतित नजर आ रही है महंगे इलाज होने के चलते कई बार मरीज को चिकित्सा सबंधी सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाती है। जिसको लेकर जिले स्तर पर मरीजों को चयनित करके उनको अब संभाग स्तर पर जॉच सुरू कराई जा रही है।
इसी सब बातों को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश सरकार अब जिला स्तर में कैंसर जैसी बीमारी के लिए अब मरीजों का स्कैनिंग कर रही है और इंदौर कैंसर फाऊंडेशन के माध्यम से मेडिकल कॉलेज शहडोल में एक कैंप का भी आयोजन किया जा रहा है जहां पर मरीज को बेहतर चिकित्सीय जानकारी के साथ दवाएं और अन्य सुझाव भी उपलब्ध कराए जाएंगे।
इन लक्षण से होती है कैंसर मरीज की पहचान
आमतौर पर मरीजों में किसी भी तरह की बीमारी और दर्द के अलावा सूजन जैसे मामलों में चिकित्सी जांच जरूरी है कैंसर के मामले में भी दो तरह के लक्षण सामने देखने को मिलते हैं जिसमें बेस्ट कैंसर और महिलाओं के लिए होता है तो वहीं ओरल कैंसर में मुंह में अल्सर के घाव का न भरना, दांतों का कमजोर हो जाना इसके अलावा तंबाकू, सिगरेट, बीड़ी, समेत फैमिली हिस्ट्री, अल्कोहल का सेवन, मोटापा समेत हुमन पैपी लोमा वायरस भी प्रमुख रूप से ओरल कैंसर का कारण बनता है तो वहीं महिलाओं में बेस्ट में गांठ और पानी निकालने के अलावा सूजन और बेस्ट के आकार में बदलाव भी कैंसर के संकेत हो सकते हैं जिसके लिए इंदौर कैंसर फाऊंडेशन के साथ जिला अस्पताल में एक दिवसीय ओरल और बेस्ट कैंसर स्कैनिंग कैंप सोमवार को किया गया। जिसके लिए मरीजों का चयन किया जा रहा है।
26 फरवरी को निशुल्क आयोजन
26 फरवरी को शहडोल स्थित बिरसा मुंडा मेडिकल कॉलेज में इंदौर कैंसर फाउंडेशन के डॉक्टर दिगपाल धरकर के द्वारा निशुल्क ओरल एवं बेस्ट कैंसर के लिए कैंप का आयोजन किया जा रहा है इसके लिए जिला स्तर पर मौजूद मरीजों की सूची भी तैयार की गई है जिन्हें इस कैंप में भेजा जाएगा।
जिले से 36 मरीज हुए चयनित
अभी तक जिला अस्पताल के द्वारा लगभग 36 मरीजो की सूची तैयार की गई है। स्वास्थ्य विभाग और भी मौजूद मरीजों के अलावा भी इस कैंप में शामिल होने की अपील कर रहा है ताकि महंगे इलाज के बीच आम आदमी को इन लक्षणों के आधार पर बीमारी के संकेत होने पर चिकित्सकीय लाभ देने का प्रयास स्वास्थ्य विभाग कर रहा है। इसके लिए बाकायदा स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मरीज को लाने ले जाने के लिए वाहनों के अलावा भोजन व्यवस्था भी रखी गई है ताकि मरीज को किसी भी तरह का अतिरिक्त भार न उठाना पड़े। साथ ही निशुल्क रूप से दवाई भी उपलब्ध कराई जाएंगी।
ईलाज के साथ दवाइयां भी निशुल्क
कार्यक्रम का आयोजन मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशन में जिला कार्यक्रम प्रभारी, डॉ0 आर पी सोनी, के निर्देशन में उपस्वास्थय केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामूदायक स्वाथ्य केन्द्र में भी बीते दिन जॉच कराई गई है आज सभी का दोबारा जिला अस्पताल में भी स्केनिंग कराई गई है ताकि सही मरीज को उपचार संबंधी लाभ मिल सकें और आने वाले 26 फरवरी को शहडोल मेडिकल कॉलेज में मरीज के बीमारी सम्बंधी जॉच करके उनको जरुरी सलाह के साथ दवाइयां भी निशुल्क उपलब्ध कराईं जाएंगी।

Leave a Comment

[democracy id="1"]