कृषि विज्ञान केंद्र पर पीएम किसान सम्मान निधि कार्यक्रम का कृषकों ने देखा सीधा प्रसारण

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

कृषकों को खरीफ किसान गोष्ठी के माध्यम से तकनीकी परामर्श भी दिया गया

शिवपुरी। रंजीत गुप्ता। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त का हस्तांतरण सीधे कृषकों के खाते में आज मंगलवार को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वाराणसी से किया गया। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण कृषकों के लिए कृषि विज्ञान केन्द्र शिवपुरी पर भी किया गया। इस अवसर पर कृषकों को खरीफ किसान गोष्ठी के माध्यम से तकनीकी परामर्श देते हुए केन्द्र के वैज्ञानिकों एवं विशेषज्ञों ने खरीफ कार्ययोजना प्रबंधन के बारे में भी बतलाया।

उप संचालक कृषि यू.एस.तोमर ने किसानों को खरीफ फसलों की तैयारी के लिए समीक्षा एवं आगामी योजना के लिए कृषि आदान की व्यवस्था करने की जानकारी देते हुए पीएम किसान सम्मान निधि योजना को किसानों के लिए बहुत ही लाभकारी बतलाया। एनएफएसएम के जिला समन्वयक सर्वेश शर्मा की भी कार्यक्रम में सहभागिता रही। उन्होंने किसानों को मोटे अनाजों की खेती खास तौर से बाजरा उत्पादन के बारे में परामर्श दिया। सहायक संचालक उद्यान बालमुकुंद मिश्रा एवं उद्यान अधिकारी इन्दरवीर भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। कार्यक्रम में 70 से अधिक प्रगतिशील किसानों की भी सहभागिता रही।
17वीं किस्त का कृषकों के खाते में हस्तांतरण प्रधानमंत्री द्वारा उत्तर प्रदेश के वाराणसी से किया गया है। जिसका सीधा प्रसारण देशभर में विभिन्न संचार माध्यमों द्वारा किया गया जिसे किसान बंधुओं ने उत्साह से देखा। पी.एम. किसान सम्मान निधि कृषकों के लिए केन्द्र शासन की बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है जो छोटे एवं लघु किसानों के लिए कृषि आदान को क्रय करने में सहयोगी होती है। साथ ही शासन द्वारा कृषकों के खाते में सीधी राशि आने से किसान को आदान क्रय करने में आसानी होती है।
कार्यक्रम कृषि विज्ञान केन्द्र के प्रमुख डॉ. पुनीत कुमार के निर्देशन में केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ.एम.के.भार्गव, डॉ. पुष्पेन्द्र सिंह, योगेश चन्द्र रिखाडी, डॉ.ए.एल.बसेडिया, डॉ.नीरज कुशवाहा, जे.सी.गुप्ता, सतेन्द्र गुप्ता एवं आरती बंसल के द्वारा कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन में सहभागिता रही।

Leave a Comment