पत्रकार पर हुए हमले की मीडिया जगत ने की निंदा

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

पुलिस कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा, हमलावरों के घरों पर चले बुल्डोजर

इंदौर। इंदौर में खुलेआम हो रही गुंडागर्दी से आम नागरिक खौफजदा है। हालात यह हो रहे है कि गुंडे पुलिस और पत्रकारों पर भी हमले से नहीं चूक रहे। गुरुवार देर रात दो घटनाओं ने साबित कर दिया कि इंदौर में अपराधी बेखौफ है। यह आरोप शहर के वरिष्ठ पत्रकारों ने पुलिस कमिश्नर राकेश गुप्ता के समक्ष लगाए। गौरतलब है कि गुरुवार देर रात एक समारोह में वरिष्ठ पत्रकार अंकुर जायसवाल पर हथियारबंद गुंडों ने जानलेवा हमला कर दिया था। जायसवाल पर हुए इस हमले से आक्रोशित पत्रकारों का एक दल इंदौर प्रेस क्लब के बैनर तले पुलिस कमिश्नर से मिलने पहुंचा।

*सभ्य समाज को डराने की कोशिश*
कुख्यात गैंगस्टर द्वारा घेर कर जायसवाल पर हमला किया। यह हमला सभ्य समाज को भयभीत करने का भी जरिया है, गुंडा तत्वों का संदेश है कि आज कलम के सिपाही भी महफूज नहीं। इस हमले की भर्त्सना करते करते हुए प्रेस क्लब की और से एक ज्ञापन भी दिया गया। इस ज्ञापन में मांग करी गई कि हमलावर गुंडा तत्वों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए और हमलावरों के घरों पर बुलडोजर चलाया जाए। पुलिस को चाहिए कि अपराधियों तत्वों में उसका खौफ पैदा हो और आम शहरी को सुरक्षा का अहसास दिलाया जा सके। प्रतिनिधि मंडल में प्रेस क्लब के महासचिव हेमंत शर्मा, उपाध्यक्ष द्वय प्रदीप जोशी, दीपक कर्दम, कोषाध्यक्ष संजय त्रिपाठी, कार्य समिति सदस्य अभय तिवारी, वरिष्ठ पत्रकार मांगीलाल चौहान, महेश मिश्रा, अभिषेक रघुवंशी , दीपक यादव, बंटी गुंजाल , दीपक जैन, , अभिषेक अग्रवाल , कमलेश्वर सिंह, मनसुख परमार , घनश्याम डोंगरे , सुमित ठक्कर ,सचिन शर्मा , एल के पंडित , विकास सिंह सोलंकी सहित अनेक पत्रकार साथी मौजूद थे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]