सिंगरौली जिले में चल रही बालू के अवैध खदान का मामला

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

सरकार ग्लोबल कम्पनी की मनमानी आई सामने, सरकारी खजाने में सेंध लगा, कर रही मोटी कमाई

मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में रेत उत्खनन के कारोबार करने वाली कम्पनी सरकार ग्लोबल कम्पनी के रायल्टी में सेंध लगाकर सरकार को आर्थिक छति पहुंचाने का मामला सामने आया है। कम्पनी वाहनों को उनकी क्षमता से अधिक रेत देकर उनसे उतनी रायल्टी तो ले लेती है पर सरकारी खजाने में जमा नहीं कर रही है जिसका खुलासा रविवार को टिकरी पुलिस चौकी द्वारा की जा रही वाहनों की जांच के दौरान हुआ है वाहन में जितनी बालू लदी थी उसके आधे की टी पी कटी थी पुलिस ने वाहन तो जप्त कर कार्रवाई के लिए भेज दिया है।

गौरतलब हो सिंगरौली जिले के गोपद नदी से रेत निकासी का ठेका सरकार ग्लोबल कम्पनी को मिला हुआ कम्पनी ने गुर्गे बैठा रखें है जो नदी को छलनी कर रहे हैं । बताया तो यहां तक गया है की कम्पनी के गुर्गों ने सिंगरौली प्रशासन को अंधेरे में रखकर जल के भीतर की रेत जहां निकाल रहे हैं वहीं परिवहन करने वाले वाहनों के संचालको चालकों से मोटी रकम लेकर मनमानी रेत भरवा कर परिवहन करा रहे हैं।

घन मीटर में ज्यादा बालू देने की शिकायत
सरकार ग्लोबल कम्पनी के सिंगरौली में बैठे कर्मचारी मनमानी उत्खनन परिवहन करा रहे हैं आरोप है घन फुट के हिसाब बालू न देकर घन मीटर में अधिक बालू चहेते वाहन चालको को देकर परिवहन करा रहे हैं। कुल मिलाकर कम्पनी शासन को चूना लगा रही है तो कम्पनी के कर्ताधर्ता कम्पनी को चूना लगा रहे हैं।
नहीं उठा सिंगरौली खनिज अधिकारी का फोन
गोपद सहित नदियों से हो रहे रेत उत्खनन एवं लायल्टी चोरी के संबंध में जब सिंगरौली जिले के खनिज अधिकारी से सम्पर्क कर उनकी प्रतिक्रिया लेना चाहा तो उन्होंने फोन नहीं उठाया।

Leave a Comment

[democracy id="1"]