फर्जी पत्रकार बने पुलिस के मेहमान

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

मानव अधिकार संगठन और मीडिया के नाम पर अवैध वसूली

छपारा पुलिस की हत्थे चढ़े 04 फर्जी पत्रकार

आरोपियों के पास से संगठन और यूट्यूब पोर्टलों की मिली कई आईडी

शोरूम संचालकों को डराकर कर रहे थे वसूली

शोरूम को सीज़ करने की दे रहे थे धमकी

सिवनी। सिवनी जिले के छपारा में मानव अधिकार संगठन के नाम पर डरा कर अवैध वसूली का मामला सामने आया है।जहां एक SUV कार में आए 04 लोग बजाज और होंडा शोरूम में जाकर अवैध वसूली करते पकडाए हैं। जिनमे शंकर लाल पिता रामजी पटेल, राठी ग्राम निवासी, हीरालाल पिता हेम सिंह डेहरिया, निवासी ग्राम सेजवाड़ा, यशवंत सिंह पिता उदल सिंह डेहरिया डुंगरिया ग्राम निवासी एवं रमेश मरावी पिता कुंवर माल निवासी ग्राम राठी शामिल है।

आरोपियों में से एक ने अपने आपको मानव अधिकार एवं आरटीआई जागरूकता संगठन का अधिकारी बताया तो अन्य लोगों ने अपने आप को रिपोर्टर बताया।इनके पास से उक्त संगठन और यूट्यूब पोर्टलों की आधा दर्जन से अधिक आईडी मिली हैं।

यह सभी लखनादौन और धूमा क्षेत्र के निवासी हैं।
बजाज शोरूम संचालक को डराते धमकाते हुए कहा कि हमें शोरूम का रिकॉर्ड चैक करने की अथॉरिटी है अगर यहां मानव अधिकार का हनन होता पाया गया तो शोरूम सीज़ कर देंगे।
बजाज शोरूम में रिकॉर्ड चैक कर शोरूम को सीज़ करने की धमकी देकर पैसे वसूलने के बाद यह होंडा शोरूम में जाकर वैसे ही डरा धमकाकर पैसे की डिमांड कर रहे थे।

जानकारी मिलते ही पहुंची छपारा पुलिस ने इनको धर दबोचा और बजाज शोरूम संचालक की शिकायत पर सभी 04 आरोपियों के खिलाफ धारा 384,34, 188 IPC के तहत मामला दर्ज किया गया है।

 

Leave a Comment

[democracy id="1"]