कॉमन सर्विस सेंटर कमाई के साथ समाज सेवा की दुकान, पहले दिन से होगी इनकम

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

कॉमन सर्विस सेंटर या सामान्य सेवा केंद्र ग्रामीण इलाकों में तेजी से पॉपुलर हो रहे हैं. सीएससी- कॉमन सर्विस सेंटर या कहें जन सेवा केंद्र, ऐसी जगह होती है जहां सरकार से जुड़ी कई योजनाओं की जानकारी दी जाती है, उनके लिए रजिस्ट्रेशन किए जाते हैं और इंटरनेट से जुड़े काम किए जाते हैं. कह सकते हैं कि ये सेंटर ‘एक दुकान-कई सारे काम’ की तर्ज पर चलते हैं. यहां आप जीएसटी से जुड़े काम करवा सकते हैं. पासपोर्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं. खाने-पीने की दुकान के लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं. ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते हैं. कुटिर उद्योग-धंधे के लिए पंजीकरण करवा सकते हैं. सरकारी स्कीमों का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं. खेत की खसरा-खतौनी निकवा सकते हैं. किसान सम्मान निधि की स्थिति जांच सकते हैं. कुल मिलाकर ऑनलाइन होने वाले अनेक काम इन जनसेवा केंद्र के माध्यम से करवाए जा सकते हैं.

कॉमन सर्विस सेंटर तमाम काम करने की जगह के साथ-साथ ग्रामीण नौजवानों के कमाई का भी एक बड़ा संसाधन है. कोई भी पढ़ा-लिखा युवक जनसेवा केंद्र खोलकर खुद का रोजगार खड़ा कर सकता है और घर बैठे ही अच्छी-खासी कमाई कर सकता है.

डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत केंद्र सरकार ने सामान्य सेवा केंद्र योजना शुरू की है. इसका मकसद ग्रामीण नौजवानों को उद्यमी बनाने के साथ-साथ ग्रामीण लोगों को अपने छोटे-मोटे कामों के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने से बचाना भी है. जिन लोगों के पास कंप्यूटर और इंटरनेट की सुविधा नहीं है, वे इन कॉमन सर्विस सेंटर पर अपना काम आसानी से और बहुत कम खर्चे पर करवा सकते हैं.

कॉमन सर्विस सेंटर
कॉमन सर्विस सेंटर या जनसेवा केंद्र एक तरह का साइबर कैफे है. यहां पर कंप्यूटर और इंटरनेट से जुड़ी सेवाएं दी जाती हैं. कोई व्यक्ति जनसेवा केंद्र से मंडीभाव या बाजार की जानकारी हासिल कर सकता है. रेल, बस या हवाई टिकट बुक कराए जा सकते हैं. मोबाइल फोन रिचार्ज कराया जा सकता है. बिजली के बिल या अन्य बिल जमा किए जा सकते हैं. स्कूल-कॉलेज में एडमिशन के फॉर्म भरे जा सकते हैं. पैन कार्ड, आधार कार्ड या मतदाता पहचान पत्र बनवाया जा सकता है. पेंशन से जुड़ी सेवाएं ली जा सकती हैं.

यह भी पढ़ें- एक से अधिक क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल, फायदा या नुकसान! रखें ध्यान

कैसे खोलें कॉमन सर्विस सेंटर
कॉमन सर्विस सेंटर खोलने के लिए 10वीं पास होना जरूरी है. कंप्यूटर की सामान्य जानकारी होनी चाहिए. इनके अलावा आपके पास टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियरिंग सेंटर (TEC) से सर्टिफिकेट लेना जरूरी है. टीईसी कम्प्यूटर का बेसिक कोर्स होता है. मामूली फीस चुकाने के बाद इस कोर्स को किया जा सकता है. टीईसी के बारे में ज्यादा जानकारी www.cscentrepreneur.in से हासिल की जा सकती है.

इन सबके बाद आपको भारत सरकार की वेबसाइट www.csc.gov.in पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड होना आवश्यक है. आप register.csc.gov.in पर जनसेवा केंद्र के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

टीईसी से सर्टिफिकेट लेने के बाद आपको कॉमन सर्विस सेंटर शुरू करने के लिए लाइसेंस लेना होगा. और लाइसेंस लेने के लिए आपको register.csc.gov.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. इस पेज पर अप्लाई पर क्लिक करने पर आपको कुछ जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर, जिस राज्य में आप कॉमन सर्विस सेंटर खोलना चाहते हैं उसका नाम आदि की जानकारी भरनी होती है. इसके बाद कैप्चा टेक्स्ट दर्ज करके सबमिट करना होगा.

रजिस्ट्रेशन के बाद सेंटर खोलने के लिए 100 से 200 वर्ग गज जगह होनी चाहिए. आप किराये की जगह में भी यह सेंटर खोल सकते हैं. इसके अलावा कम से कम दो कम्प्यूटर और पावर बैकअप का इंतजाम होना चाहिए. जनसेवा केंद्र में प्रिंटर और इंटरनेट कनेक्शन भी होना जरूरी है.

कैसे और कितनी होती है कमाई
जनसेवा केंद्र खोलकर आप रोजाना अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं. यहां पर बैंकिंग ट्रांजेक्शन पर कमिशन मिलता है. यह कमिशन 11 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन होता है. टिकट बुक करने पर एक्स्ट्रा चार्ज मिलता है. टिकट बुकिंग पर 10 से 20 रुपये तक मिलते हैं. पेज प्रिंट कराने से लेकर बिलों के भुगतान आदि हर काम में एक निश्चित कमाई होती है.

Tags: Business ideas, Digital India

Source link

Leave a Comment

[democracy id="1"]