जल क्षमता संवर्धन में संत मंडल अमरकंटक स्वच्छता अभियान में किया श्रमदान

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं


वैतरणी नदी में फैली जल कुंभी हटाने नगर परिषद के कर्मचारीगण ,संतमंडल , अध्यक्ष,पार्षद,वार्डवासी कि सफाई ।
अमरकंटक। श्रवण उपाध्याय।  मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली / पवित्र नगरी अमरकंटक नगर परिषद अंतर्गत विश्व पर्यावरण दिवस अवसर पर 05 जून से 15 जून 2024 तक कमिश्नर शहडोल संभाग श्री बी एस जामोद के आदेशानुसार तथा जिला कलेक्टर श्री आशीष वशिष्ठ के मार्गदर्शन में नगर परिषद अमरकंटक क्षेत्रांतर्गत वार्ड क्रमांक 02 बस स्टैंड पास वैतरणी नदी में पंडित दीनदयाल चौक के पास अनेक दिवस से लगातार सुबह 7 बजे से जल गंगा संवर्धन के तहत जल स्रोतों को सहेजने और उनकी साफ सफाई का अभियान चलाया जा रहा है । जिसमे अलग अलग दिवस नगर के संत मंडल और अपने भक्तो के साथ पहुंच इस अभियान में आकर श्रमदान कर स्वच्छता अभियान में अपना योगदान दे रहे है । इसी तरह नगर परिषद अंतर्गत अनेक वार्डो में सफाई का अभियान भी जारी है । कई दिनों से वैतरणी नदी में एक विशेष प्रकार की जल कुंभी का पौधा अपना जाल पूरे वैतरणी नदी में फैलाए हुए है और अब धीरे धीरे नर्मदा नदी (डैम) में भी फैल रहा है । जिसको निकालने हेतु पूरे नगर परिषद के सफाई कर्मचारीगण , नगर परिषद के समस्त पदाधिकारीगण , नगर परिषद की अध्यक्ष , वार्ड पार्षदगण तथा नगर के गणमान्य नागरिक , संत मंडल इस मुहिम में बढ़ चढ़ कर भाग ले कर सफाई में अपना श्रमदान कर हाथ बटा रहे है ।
अमरकंटक क्षेत्र में कुछ समय पूर्व से ही यहां के जल में जलकुंभी नामक पौधा धीरे से पनपना प्रारंभ किया था लेकिन आज यह मुसीबत बनता जा रहा है , काफी ज्यादा फैल गया है जिसे वैतरणी नदी से निकाला जाने का कार्य किया जा रहा है । यह श्रमदान अभियान इसी जगह आगे भी जारी रहेगा ।
नगर परिषद सीएमओ चैन सिंह ने बताया की इस वैतरणी नदी तट पर सफाई अभियान चलाया जा रहा । नगर के जनमानस कुछ संख्या में पहुंच कर हाथ बटा रहे है । अगर सभी पार्षद अपने अपने वार्डो से कुछ संख्या साथ ले कर आवै तो संख्या खूब बन जाया करे । संत गण भी इस मुहिम में आकर अपना श्रमदान करते है । वृक्षा रोपण भी नदी तट पर कराया जायेगा जिससे आने जाने वालों को बढ़िया छाया और नदी कटाव में भी बचाव होगा । उद्गम स्थल या नदी किनारे कई जगह पौधे लगवाए गए है आगे और भी लगवाए जायेंगे ।
अध्यक्ष पार्वती सिंह और पार्षद , संतगणों ने बताया की इस तरह के अभियान में लोगो को बढ़ चढ़ कर भाग लेना चाहिए । अपने नगर में पूर्व के पंद्रह दिवस स्वक्षता पखवाड़ा सफाई अभियान चला , अब जल स्रोतों के जगहो की सफाई की जा रही है यह अच्छी बात है । इसमें सब का साथ होना जरूरी है । आज भी इस मुहिम में अन्य लोग भी आ कर कंधे से कंधा मिलाकर नगर परिषद का साथ दे रहे है ।
आज के इस अभियान में फलक जन कल्याण महिला मंडल रीवा के सौजन्य और वतन सेवा समिति रीवा के सौजन्य से तथा मां नर्मदा नदी संरक्षक ग्राम विकास प्रस्फुटन समिति वैतरणी अमरकंटक , कार्यालय नगर परिषद अमरकंटक निकाय क्षेत्रांतर्गत विभिन्न जल स्रोतों की साफ सफाई एवम संरक्षण तथा पुनर्जीवन क्षमता संवर्धन विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर 05 जून से 15 जून 2024 तक कार्यक्रम चलाया जा रहा है , जिसमे लोग अपना श्रमदान देकर भागीदार बन रहे है । अमरकंटक के इस जल क्षमता संवर्धन मुहिम में अमरकंटक के संत मंडल व अन्य जागरूक नागरिक सम्मिलित हुए जिसमे मुख्य रूप से शांति कुटी के श्रीमहंत रामभूषण दास जी महाराज , परमहंस धारकुंडी आश्रम के बाबा लवलीन महाराज , मृत्युंजय आश्रम से योगेश जी , कल्याण सेवा आश्रम , हनुमान दास जी(कामद कल्प तरु वन आश्रम) संत आदि , नगर परिषद अध्यक्ष श्रीमती पार्वती सिंह उइके , उपाध्यक्ष रज्जू सिंह नेताम , सीएमओ चैन सिंह परस्ते , उपयंत्री देवल सिंह बघेल भी प्रारंभिक दिवसों पर रहे ,मंडल अध्यक्ष रोशन पनारिया , पार्षद शक्तिशारण पांडेय , पार्षद दिनेश द्विवेदी , पार्षद श्रीमती सावित्री बाई , पार्षद श्रीमती विमला दुबे , श्रीमती उषा पांडेय , चैन सिंह मंडलोई , मनीष विश्वकर्मा , गंगा सिंह , मेघा सिंह , बैजनाथ चंद्रवंसी , राजकुमार , शैलेंद्र तिवारी , उमेश मरावी , भगवान दास , सकुर खान , जय प्रकाश पड़वार , शारदा सिंह , केशव सिंह , पत्रकार आदि अनेक लोग उपस्थित होकर श्रमदान को गति प्रदान किया जा रहा ।

Leave a Comment