मध्यप्रदेश आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ ने सौपा ज्ञापन

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

उमरिया। देवलाल सिंह। आज भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले मध्यप्रदेश आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ ने प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर को सौपा है। ज्ञापन की छायाप्रति देते हुए संघ की प्रदेश उपाध्यक्ष सुनीता त्रिपाठी ने बताया कि हम मानसेवी कार्यकर्ता शासन की योजनाओं का जमीनी स्तर पर काम करते है औऱ उनकी योजनाओं को हितग्राहियों के घर घर तक पहुचाते है लेकिन मानसेवी महिलाओं का शोषण किया जाता है। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को जहां मोबाइल नेटवर्क की दिक्कत जाती है वही बिजली समस्या का भी सामना करना पड़ता है। यहां तक कि भवन में अन्य सुविधाओं की पूर्ति के लिए उनके स्वयं का खर्चा होता है। अच्छे क्वालिटी का मोबाइल नही है और डाटा के लिए सरकार पैसे भी नहीं देती है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि सम्पर्क एप तत्काल बंद कराया जाए और मिनी कार्यकर्ताओं को शीघ्र फुल कार्यकर्ता बनाया जाए। साथ ही सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को राज्य कर्मचारी घोषित किया जाए।बता दें कि कलेक्टर परिसर के सामने चिलचिलाती धूप में महिलाएं एकत्रित होकर धरना प्रदर्शन करते हुए अपनी मांगों का ज्ञापन कलेक्टर को सौपा है। इस दौरान नवमी शरन क्षेत्रीय अध्यक्ष भारतीय कोयला खदान मजदूर संघ जोहिला क्षेत्र, उपाध्यक्ष ननकी बाई, सचिव बेवी जॉन सहित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका संघ मौजूद रहे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]