जैनाचार्य विजयेंद्र सूरी जी 59 वीं पूण्यतिथि मनाई गई

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

चरण पादुका व तस्वीर पर पुष्प अर्पित किए गए

शिवपुरी। रंजीत गुप्ता। शिवपुरी में विजयधर्म सूरी के परम शिष्य जैनाचार्य विजयेंद्र सूरी जी 59 वीं पूण्यतिथि विजयेंद्र धर्म सूरी समाधि मंदिर के सामने स्थित छत्री पर 9 मई को मनाई गई। विजयेंद्र सूरी जी जिनका धार्मिक एवं पुस्तकीय मामलों में योगदान रहा। ऐसे संत को जिनका शिवपुरी में 9 मई 1966 को देहावसान हुआ था। शिवपुरी समाज से मंगल चंद्र कोचेटा द्वारा उनका दाह संस्कार किया गया था। उनकी पुण्य भूमि पर चरण पादुका व तस्वीर पर विजयेंद्र धर्म सूरी समाधि मंदिर के वीर तत्व प्रकाशक मंडल ट्रस्ट के प्रबंधक यशवंत जैन गुगलिया द्वारा माल्यापर्ण किया गया और चरण पादुका पर पुष्प अर्पित कर श्रीफल व फल एवं मिष्ठान भी अर्पित किए गए। 1950 में ग्वालियर रियासत के राजा जीवाजी राव सिंधिया भी विजयेंद्र सूरी जी से मिलने आए थे। उस समय विजयेंद्र धर्म सूरी जी 28 वीं पुण्यतिथि थी।

Leave a Comment

[democracy id="1"]