1 वर्ष में इंदौर जिले की महिलाएं 5 हजार करोड़ की संपत्ति की मालकिन बनीं

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

इंदौर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह से महिला को आगे बढाने के लिए महिला बिल को पास किया , उसके बाद इंदौर में उस बिल का काफी असर देखने को मिल रहा है और जहा महिला को आगे बढाने के लिए लोग अलग अलग तरह के प्रयास कर रहे हैं तो वही अब महिलाओ के नाम पर संपतिया भी खरीदी जा रही है, और इंदौर में सबसे अधिक महिलाओ के नाम संपतियो की रिजिस्ट्री हुई है ।पिछले वित्तीय वर्ष में इंदौर जिले में 93400 रजिस्ट्रीयां हुई हैं। इनमें 34300 रजिस्ट्रीयां महिलाओं के नाम पर हुई हैं। इस प्रकार महिलाओं ने राज्य सरकार द्वारा पंजीयन में दी जा रही दो प्रतिशत की छूट का लाभ लेते हुए लगभग 94 करोड रुपए की छूट प्राप्त की। इंदौर जिले में गत 1 वर्ष में ही महिलाएं 5 हजार करोड़ की संपत्ति की मालकिन बनी हैं। राज्य सरकार द्वारा सम्पत्तियों के पंजीयन में दी जा रही छूट के कारण बड़ी संख्या में महिलाओं के नाम पर संपत्तियों के पंजीयन किए जाने का चलन बढ़ा है। वरिष्ठ जिला पंजीयन श्री दीपक शर्मा ने बताया कि गत वित्तीय वर्ष में 1लाख75 हजार दस्तावेजों का पंजीयन हुआ है जिससे राज्य सरकार को लगभग 2415 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है।

 

Leave a Comment

[democracy id="1"]