अमरकंटक में तेज दिमाग समूह द्वारा सेमिनार का आयोजन संपन्न

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं


अमरकंटक। श्रवण उपाध्याय। मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली / पवित्र नगरी अमरकंटक में विद्यार्थियों एवम् शिक्षको के लिए अध्ययन एवं शिक्षण पद्धति से गुणवत्ता और बौद्धिक क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से एक नई अविश्वसनीय पहल सर्व प्रथम मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली पतित पावनी पुण्य सलिला मां नर्मदा की गोद अमरकंटक से एक नया प्रयास का शुभारंभ किया गया । भारत की एक संस्था / कंपनी तेज दिमाग – मैक्स , माइंड ग्रो , एजुकेशन को आमंत्रित किया है । एक कार्यशाला सेमिनार के माध्यम से अदभुत , अविश्वसनीय अध्यापन / पाठन शैली के बारे मे जानकारी दे अवगत कराया जिससे इन विद्यार्थियों के शिक्षक बनने पर उनकी शिक्षण शैली में एक नया अध्याय जुड़ जायेगा जिससे कालेजो के बच्चे या अन्य संस्था के विद्यार्थी यहां से भिन्न होंगे और रोजगार अथवा नौकरी के नए आयाम को प्राप्त करेंगे ।


इन कार्यशाला में विद्यार्थियों को मेमोरी साइंस , एन.एल.पी.ए.,मेडिटेशन , अबेकस, वैदिक मैथ , हैंड राइटिंग, कैलीग्राफी , कोडिंग , राबोटिक्स , पब्लिक स्पीकिंग के पाठ्यक्रम के बारे में प्रायोगिक कार्यशाला के माध्यम से समझाया गया ।
सर्व प्रथम यह कार्यक्रम का आयोजन कल्याणिका महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्र / छात्राओं को बौद्धिक क्षमता बढ़ाने उद्देश से दिया गया उसके बाद कल्याणिका केंद्रीय शिक्षा निकेतन विद्यालय प्रांगण में छः सौ बच्चो के मध्य और वहां सभी उपस्थित शिक्षकगणों के बीच एक थर्ड आई मेडिटेशन का प्रयोग लगभग सोलह बच्चो में किया गया जिससे ये विद्यार्थी एक्टिव हो गए और आंखे पर काली पट्टी बांध कर अधिक से अधिक रंगों, अंको एवम वस्तुओ को पहचान कर बताने लगे जिस क्रिया के निरंतर अभ्यास से विद्यार्थियों की मेमोरी पॉवर अपेक्षा से अधिक बढ़ सकती है ।


इन प्रयोगशालाओं का संचलन कमलेंद्र कुमार झांसी (मार्केटिंग हेड – तेज दिमाग) द्वारा किया गया एवम इन प्रयोगशालाओं में प्रशिक्षण एवम प्रायोगिक अभ्यास ए एल पी एक्सपर्ट एवम जेम अवॉर्डी कपिल शर्मा जयपुर (को फाउंडर एवम सीईओ – तेज दिमाग ) के द्वारा स्वयं दिया गया जिसमे समस्त विद्यार्थी पूर्ण संतुष्ट रहे एवम उन्हे नई तकनीको का प्रारंभिक आंशिक ज्ञान संतुष्टि पूर्वक प्राप्त हो सका । महाविद्यालय प्राचार्य डॉ आर एस कुशवाहा ने बताया की ये एक नई पद्धति का उत्सर्जन है जिससे बच्चो में एक नई ऊर्जा का संचार होगा और आगे चलकर बच्चे स्वतः एक मुकाम हासिल कर कामयाब होंगे । इन्हे आमंत्रित कर तेज दिमाग एजुकेशन माध्यम से अध्यापन / पाठन शैली से बच्चो को एक नई ऊर्जा का आगाज होगा ।
उक्त कार्यशालाओ में कल्याणिका महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. आर एस कुशवाहा , ब्रजेश कुमार मिश्रा , रजनीश कुमार , श्रीमती अम्बी बर्मन , कल्याणिका विद्यालय में उपप्राचार्य अविनाश पात्रा , वार्डन ऐ के शर्मा , पत्रकार श्रवण उपाध्याय , उमाशंकर पांडे , शिक्षकगण, स्कूली छात्र / छ्त्राए , स्कूल स्टाफ आदि की मौजूदगी में कार्यशाला संपन्न हुआ ।

Leave a Comment

[democracy id="1"]