यह अंतरिम बजट विकास, विरासत और संकल्प का खुशनुमा दस्तावेज- प्रहलाद भारती

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

 

पूर्व विधायक ने दी प्रतिक्रिया

– किसान, युवा, गरीब और महिलाओं को सामर्थ्यमान बनाने वाला दिशामूल्क एवं समावेशी बजट बताया

शिवपुरी। रंजीत गुप्ता। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा आज संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा पेश किए गए अंतरिम बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मध्यप्रदेश पाठयपुस्तक निगम के उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक प्रहलाद भारती ने कहा है कि यह
अंतरिम बजट विकास, विरासत और संकल्प का खुशनुमा दस्तावेज है. इस अंतरिम बजट में समाज के सभी वर्गों खास तौर पर ‘विकसित भारत’ के लिए स्थापित चार स्तंभों किसान, युवा, गरीब और महिलाओं को प्राथमिकता देते हुए विकसित भारत बनाने की प्रतिबद्धता है. यह बजट देश को आर्थिक समृद्धि, स्थिरता और प्रगति की दिशा में आगे ले जाने वाला महत्वाकांक्षी और सर्वसमावेशी बजट है.
प्रहलाद भारती ने कहा है कि गांवों और शहरों में गरीबों के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाली हमारी भाजपा सरकार ने अब तक 04 करोड़ से अधिक घर बनाए हैं. और अब आवास योजना के तहत 05 साल में 02 करोड़ और घर बनाए जाने की बात बजट में कही गई है, इसका मैं ह्रदय से स्वागत करता हूं. देश के गरीब लोगों के जीवन में इससे क्रांतिकारी परिवर्तन आएगा. यह बेहद महत्वाकांक्षी और गरीबों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने वाला कदम है. केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मौदी जी के नेतृत्व वाली हमारी सरकार ने 02 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था, अब इसे बढ़ाकर 03 करोड़ किया गया है. 40 हजार रेल बोगियों को वंदे भारत जैसी आधुनिक रेल बोगियों में रूपांतरित करने का प्रावधान बजट में किया गया है, इससे रेल यात्रियों को आने वाले समय में सुविधाजनक सफर का लाभ मिलेगा और हम सबकी ट्रेन यात्रा पहले से अधिक सुखद और रोमांचक हो सकेगी।
निगम उपाध्यक्ष प्रहलाद भारती ने कहा है कि देश के लोगों की औसत वास्तविक आय में 50त्न की वृद्धि हुई है. देश में पिछले 10 साल में 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए हैं. केंद्र सरकार की अपने आप में यह एक बड़ी उपलब्धि है. हमारी सरकार ने हर घर तक जल, बिजली, गैस, वित्तीय सेवाएं पहुंचाने और जन-जन को बैंकिंग सुविधाओं से सीधा जोड़ने का काम किया है. खाद्यान्न की चिंताओं को दूर कर 80 करोड़ से अधिक लोगों को निशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराया है।
पूर्व विधायक प्रहलाद भारती का कहना है कि आज संसद में पेश किया गया अंतरिम बजट राजकोषीय अनुशासन का उत्कृष्ट उदाहरण है. बजट में युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर सृजित करने पर विशेष ध्यान केंद्रित किया गया है. आयुष्मान भारत योजना के तहत सभी आशा कार्यकर्ताओं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और हेल्पर्स को कवर करने का प्रावधान इस बजट में किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की विजनरी लीडरशिप में इस बजट में केंद्र सरकार ने ‘गवर्नेंस, डेवलपमेंट और परफार्मेंसÓ तीनों पर समान रूप से ध्यान केंद्रित किया है. यह केंद्रीय अंतरिम बजट एक ऐसा बजट है जो दिशामूलक है, समावेशी है और अभिनव है।

Leave a Comment

[democracy id="1"]