November 30, 2022 11:19 pm

संदेह के आधार पर रुकी अंतिम यात्रा

Traffictail

कोतमा। थाना अंतर्गत ग्राम जमुनिया से अजीबोगरीब मामला सामने आया है । शमशान पर दाह संस्कार के लिए परिजनों के द्वारा शव को ले जाया गया था। इसी दौरान मृतक के छोटे भाई ने इसकी सूचना कोतमा थाने को दी । मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम हेतु समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोतमा भिजवाया । जहाँ आज शव का पीएम होगा।
हत्या की आशंका जताई

22 नवंबर को थाना अंतर्गत जमुनिहा गांव में 48 वर्षीय राजभान की मौत हो गई थी। मृतक के परिजन उसके अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे, इसी बीच मृतक के भाई चंद्रभान सिंह ने पुलिस को शिकायत करते हुए बताया कि उसका भाई राजभान सिंह गोड़ 48 वर्ष की मृत्यु हो गई है और परिवार के लोग उसका अंतिम संस्कार करने के लिए ले जा रहे है। उसके भाई की मौत संदिग्ध लग रही है और उसका पीएम करवाया जाए। घटना की जानकारी लगते ही थाना प्रभारी अजय कुमार बैगा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर मुक्तिधाम से शव का पंचनामा तैयार कर पीएम के लिए कोतमा अस्पताल भिजवाया। पुलिस ने बताया कि मृतक की पत्नी एवं एक भाई का कहना है कि उसके भाई को दशहरा के समय लकवा लग गया था जिसके कारण वह बीमार रहता था, उसको दोबारा लकवा की शिकायत हो गई थी, जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गई है। फिलहाल पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मृत्यु के कारणों का खुलासा हो पाएगा।मृतक के छोटे भाई का आरोप है कि जमीन के लिए बड़े भाई ने हत्या की है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?