November 30, 2022 10:02 pm

मम्मी-पापा मुझे माफ करना,सुसाइड नोट में लिखा शनि ने

Traffictail

आदिवासी छात्रावास में 12वीं के छात्र ने की खुकुशी

उमरिया। अनिल साहू। आदिवासी बालक छात्रावास पाली में 12 वीं का छात्र आतमघाती कदम उठाया है।बताया जाता है कि छात्र शनि पिता ब्रजेश वंशकार उम्र करींब 17 वर्ष अपने छात्रावास कमरे में सुबह से दोपहर 12 बजे तक बाहर नही निकला था,जिस वजह से बाकी छात्रों को अनहोनी का अंदेशा हुआ,जिसके बाद छात्रों ने सम्बंधित अधीक्षक एवम बाकी टीचर्स को इसकी जानकारी दी,बताया जाता है कि इस मामले पर तत्काल टीचर्स स्टाफ ने दरवाजा खुलवाया,परन्तु अंदर से बंद होने की वजह से छात्रों ने पीछे से जाकर खिड़की से देखा तो छात्र फंदे पर लटकता मिला है,जिसके बाद मामले की जानकारी सम्बंधित पाली पुलिस को दी गई,जिसके बाद इस संवेदनशील मामले में पुलिस घटना स्थल पहुंची है,और शव को कब्जे में लेकर ज़रूरी कार्यवाही कर रही है।इस मामले में बताया जाता है कि मृत छात्र आतमघाती कदम उठाने से पूर्व बकायदा सुसाइड नोट लिखा है,जिसमे मम्मी-पापा के कोई काम न आने पर अपने मम्मी-पापा से माफी मांगा है,इसके अलावा और भी क़ई बातें लिखा है,परन्तु आतमघाती कदम क्यों उठा रहा है,इस बाबत कोई भी बात नही कहा है।छात्रावास प्रबन्धन की माने तो क़ई दिनों से उक्त छात्र डिप्रेशन में था,किसी से बहुत ज्यादा बात नही करता था,अक्सर गमसुम सा रहता था,छात्र यही सोचते थे,कि शनि पढ़ने वाला लड़का है,इसलिए खामोशी से किताब पढ़ता रहता है,कुछ माह पूर्व उक्त मृत छात्र गिर भी गया था,जिस वजह से सर पर चोट आदि भी लग गई थी,जिसके बाद पाली अस्पताल में टांके आदि भी लगे थे।फिलहाल इस मामले में पुलिस मर्ग आदि की कायमी कर तफ्तीश में जुट गई है,देखना होगा पुलिस इंवेस्टिगेशन में छात्रावास के अंदर छात्र के आतमघाती कदम उठाने के कौन से कारण सामने आते है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?