November 30, 2022 11:27 pm

मध्य प्रदेश: कूरियर से हो रही नशे की तस्करी, दिल्ली से बुक की गई 10 लाख की

Traffictail

हाइलाइट्स

रीवा में पकड़ी गई नशीली दवा की बड़ी खेप
ड्रग्स तस्करों के खिलाफ रीवा पुलिस की बड़ी कार्रवाई
मध्य प्रदेश में लगातार बढ़ रही है युवाओं में नशाखोरी की लत

भोपाल. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत रीवा में तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है. पुलिस ने वहां कूरियर कंपनी के जरिए तस्करी करके लाई गई 10 लाख रुपए कीमत की 40 पेटी नशीली कफ सिरप (Intoxicating cough syrup) जब्त की है. इसके साथ ही एक मोस्ट वांटेड अपराधी को भी गिरफ्तार किया गया है. इस सिरप को एक मेडिकल स्टोर संचालक ने कूरियर के जरिए दिल्ली से बुक कराया था. पुलिस अब इस जांच में जुटी है कि इसे कहां-कहां और किस तरह से सप्लाई किया जाना था.

पुलिस के अनुसार कूरियर से नशे की तस्करी की सूचना मिलने पर कृष्णाकुंज स्थित ट्रांसपोर्ट पर दबिश दी गई. ट्रांसपोर्ट का ताला खुलते ही कृष्णा मेडिकल के नाम से बुक कूरियर की जांच की गई. भारी पुलिस बल की मौजूदगी में एक-एक कर दिल्ली से बुक किए गए लगेज की तलाश ली गई. पुलिस ने जब कार्टन खुलवाए तो सबके होश उड़ गए. इन कार्टनों मे भारी मात्रा में कफ सिरप पाई गई. बाद में जब उनकी गिनती की गई तो कुल 41 पेटी में करीब 4800 नग कफ सिरप मिली. इस पर पुलिस ने उसे जब्त कर लिया गया.

नशे के खिलाफ हेल्प लाइन नंबर जारी किया हुआ है
रीवा एसपी नवनीत भसीन ने बताया कि जिले में नशे के खिलाफ हेल्पलाइन नंबर जारी किया हुआ है. इसी कड़ी में एक मुखबिर ने कोरेक्स तस्करी की नई प्रकार की सूचना दी. उसने बताया कि रावेन्द्र कुमार यादव गोविंदगढ़ ने कोरियर से नशीली कफ सिरप मंगाया है. उसका यह माल रीवा के एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में उतर रहा है. इस सूचना के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सीरप को जब्त कर लिया है.

शिवराज सरकार ने छेड़ रखा है अभियान
उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में ड्रग्स की तस्करी बड़ी पैमाने पर होती है. पुलिस समय-समय पर इनके खिलाफ कार्रवाई भी करती है. लेकिन ड्रग्स तस्कर इसके आदान-प्रदान के नए-नए तरीके ढूंढ लेते हैं. प्रदेश के युवाओं में बढ़ रही नशाखोरी की लत पर लगाम लगाने के लिए शिवराज सरकार ने अभियान भी छेड़ रखा है. शिवराज सरकार की इस पहल की पूर्व सीएम उमा भारती ने भी तारीफ करते हुए ट्वीट कर कहा कि मेरे बड़े भाई शिवराज सिंह ने नशा मुक्ति अभियान का प्रारंभ कर ही दिया. जिस तरह से हुक्का बार, लाउंज और नशे के अवैध व्यापार को ध्वस्त करने के लिए अधिकारियों को कड़े कदम उठाने का आदेश दिया है वह स्वागत योग्य है.

Tags: Crime News, Drug Smuggling, Mp news, Rewa News

Source link

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?